ताज़ा खबर

जम्मू में लॉकडाउन पुलिस हुई अब सख्त Newsखबर. Dated: 3/25/2020 11:52:45 PM | No. of Hits 107



जम्मू में लॉकडाउन
पुलिस हुई अब सख्त
बाहर निकले लोगों को पुलिस ने सिखाई सोशल डिस्टेंसिंग
जम्मू
कोरोना वायरस का कहर इस समय पूरी दुनिया में फैला है और वर्तमान में इससे अभी निपटने का एक मात्र तरीका है सोशल डिस्टेंसिंग। इसी बात को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार ने देश में 21 दिनों के लॉकडाउन का आदेश दिया है। लेकिन अभी भी कुछ लोग ऐसे हैं जो इसकी गंभीरता को नहीं समझ रहे और सडक़ों पर नजर आ रहे है। जम्मू में भी कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला। लेकिन जम्मू.कश्मीर में ऐसा करने वालों को पुलिस ने एक अलग तरीके से इस बात को समझाया।
बुधवार को लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों को स्थानीय पुलिस ने सडक़ पर कुछ दूरी पर बनाए गए घेरों में बैठाया ताकि वो समझ सके कि यह कितना जरूरी है। पुलिस की ओर से हिदायत दी जा रही है कि लोगों से दूरी बनाए रखे और लॉकडाउन का पालन करें। इतना ही नहीं ऐसे लोगों के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज की जा रही है। पुलिस ने विक्रम चौक समेत शहर के कई इलाकों में इस मुहिम को चलाकर सडकों पर आने वाले लोगों को कडा संदेश दिया।
पुलिस इसलिए सख्त कदम उठा रही है ताकि लोग अपने घरों में ही रहें। इतना ही नहीं पुलिस की ओर से लोगों को मुर्गा बनाया जा रहा है या फिर उठक बैठक करवाई जा रही है। कुछ लोगों को पुलिस ने समझाकर घर भी भेजा और उनसे आगे लॉकडाउन के समय में घर से बाहर न निकलने की अपील की। कोरोना वायरस से बचाव के लिए प्रशासन ने दुकानों और एटीएम के बाहर भीड़ रोकने के लिए चूने से घेरे बनाए हैं। बैंकों के एटीएम, फल, सब्जी, किराना, मेडिकल स्टोर के बाहर लगने वाली भीड़ को कम करने के लिए प्रशासन ने घेरे बनाए हैं। ताकि सोशल डिसटेंस बनी रहे। साथ ही अपील की गई है जरूरी खरीदारी के लिए बाजारों में निकले लोग इन्हीं घेरों में खड़े होकर एक दूसरे से दूरी बनाए रखें। सभी घेरों के बीच एक से डेढ़ मीटर की दूरी है। वहीं तस्वीर में दिख रहे युवकों ने सोशल डिसटेंसिंग के नियमों का उल्लंघन किया तो पुलिस ने इन्हें काफी देर तक इन्हीं घेरों में बैठाए रखा। इसके बाद नियमों का पालन करने की अपील करते हुए सभी को छोड़ दिया। वहीं कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए जम्मू कश्मीर की लद्दाख, पंजाब और हिमाचल प्रदेश से लगती सभी सीमाएं सील कर दी गई हैं। सभी प्रवेश द्वारों को सील करने के बाद केंद्र शासित प्रदेश में केवल लखनपुर से प्रवेश किया जा सकेगा। यहां से आने वाले सभी लोगों को 14 दिन एकांतवास में कठुआ में बने केंद्रों में रहना होगा। जम्मू.कश्मीर को पंजाब और हिमाचल से जोडऩे वाले कठुआ जिले के अटल सेतु को सील कर दिया गया है। इससे बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों और वाहनों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। राज्य के प्रवेश द्वार पर 400 लोग फंसे हुए हैं। इस बीच प्रवेश द्वार लखनपुर से लेकर पूरे जम्मू.कश्मीर और लद्दाख में लॉकडाउन है। आवश्यक सेवाओं में शामिल चीजों को छोडक़र शेष सभी दुकानें बंद हैं। हालांकि लॉकडाउन के बाद भी सडक़ों पर निकले लोगों के प्रति प्रशासन ने दोपहर बाद सख्ती दिखाई। इसके बाद सडक़ों पर सन्नाटा पसरा रहा। उधर लॉकडाउन के दौरान सरकारी आदेशों की अवहेलना करने पर मुकदमे के साथ ही अब गिरफ्तार करने की भी तैयारी है। लॉकडाउन की घोषणा के बावजूद लोगों के घरों से निकलने को सरकार ने गंभीरता से लिया है। इसके तहत आदेशों का उल्लंघन करने वाले पर भारी जुर्माना लगाया जा सकता है। इन्हें छह महीने की सजा भी हो सकती है। हालांकिए अभी इसका आदेश जारी नहीं हुआ है लेकिन सरकार ने सभी डीसी को आदेश का सख्ती से पालन करने को कहा है। इस बीच प्रशासन ने सभी डीसी को अपने यहां खाली सरकारी भवनों के बारे में जानकारी जुटाने को कहा है ताकि जरूरत पडऩे पर इन्हें एकांतवास केंद्र के रूप में बदला जा सके।

Photo Gallery

Cricket Today

Weather Today